Corona patients recovering from only Rs 1.50 tablet, doctors surprised from China to America
Corona patients recovering from only Rs 1.50 tablet, doctors surprised from China to America

कोरोना संक्रमण से परेशान पूरी दुनिया को अभी तक इसका वैक्सीन नही मिल सका है। कई सारे देश वैक्सीन की तलाश में लगे हुए हैं। इसी बीच एक खबर आ रही है कि मात्र 1.50 रुपये की एक गोली से कोरोना के मरीज ठीक हो रहे हैं, जिसकी वजह से पूरे दुनिया के डॉक्टर आश्चर्यचकित हैं। ये दवा मेटफार्मिंन है।

ये दवा आम तौर पर डायविटीज के पेसेंट को ठीक करने के लिये इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा का इस्तेमाल कोरोना के मरीजों के लिये किया जा रहा जिसका सकरात्मक परिणाम सामने आया है। इस दवा को लेकर चीन के वुहान के डॉक्टर नेभी रिसर्च की, डॉक्टरों का कहना है कि यह दवा कोरोना के इलाज में कारगार पाई गई है।

ये भी पढ़ें: 13000 सरकारी स्कूलों को हमेशा के लिए बंद करने की तैयारी मध्य प्रदेश में!

अमेरिका के रिसर्चर ने भी माना सही—

अमेरिका के एक यूनिवर्सिटी के रिसर्च में कहा गया है कि मेटफॉर्मिन दवा कोरोना के मरीजो की मृत्यु के खतरों को कम कर देता है। अमेरिका ने करीबन 6 हजार मरीजो पर टेस्ट किया।

एक अंग्रेजी अखबार द सन के मुताबिक, ब्रिटेन के प्रमुख स्वास्थ्य संस्था नेशनल हेल्थ सर्विस ये दवा पहले से इस्तेमाल कर रहा है। और डायबिटीज के साथ ब्रेस्ट कैंसर और हार्ट के बीमारियों में कारगर है। टाइप 2 डाइबिटीज के इलाज के लिये 1950 के दशक में दवा का उपयोग किया गया।

ये भी पढ़ें: हिंदी जोक्स: भई तेरे को दुनिया मे नही जम रहा हो तो ऊपर बुला लेता हूँ…

वहीं मेटफॉर्मिन दवा चीन के बुहान में काफी कारगर साबित हुआ। बताया जा रहा कि जो डायबिटीज के मरीज कोरोना से संक्रमित हैं, और ये दवा ले रहे थे उनमें मौत के दर में काफी कमी आई। बुहान के एक डॉक्टर का कहना है कि मेटफॉर्मिन दवा लेने वाले में से सिर्फ 3 की मौत हुई, जबकि उनमे से सभी गम्भीर कोरोना से संक्रमित थे, उतनी ही संख्या में बिना ये दवा लिए 22 मरीजो की मौत हो गयी।