टीम से लगातार नजरअंदाज हो रहे सूर्यकुमार को विराट कोहली ने दी सलाह

श्रीलंका के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच के दौरान Virat Kohli बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए अपने वनडे करियर का 45वां शतक जड़ने में कामयाब रहे। विराट कोहली अपनी इस बेहतरीन पारी के चलते 113 रनों के स्कोर को बनाने में कामयाब रहे। जिसमें भारतीय टीम 373 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर सकी, और 67 रनों से इस मैच को जीतने में कामयाब रही। मैंच के बाद सूर्यकुमार यादव द्वारा विराट कोहली का इंटरव्यू किया गया, जिसमें विराट कोहली ने सूर्यकुमार यादव को बहुत ही मनोरंजक बातें बताई।

विराट कोहली ने कहीं यह बात

विराट कोहली ने सूर्यकुमार यादव से बात करते हुए कहा कि-

“जब आप बहुत अधिक रन बनाएंगे, तो लोग आपको अलग नजरिए से देखेंगे। वह हमेशा आपसे यही उम्मीद लगाएंगे, कि सूर्यकुमार हमें कुछ बेहतर करके देगा। मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही घटित हो चुका है, जब तक फार्म बेहतर रहती है रन बनते जाते हैं, तो सब कुछ अच्छा चलता है। लेकिन जब रन नहीं बन पाते, तो फिर मुझे चिड़चिड़ाहट होने लगी। क्योंकि मैं हमेशा लोगों की अपेक्षाओं के मुताबिक ही खेलने का प्रयास करता था। मैं हमेशा यही सोचता था, कि मुझे बेहतर खेलना है, लेकिन मुझे क्रिकेट कुछ ऐसा नहीं करने दे रहा था, मेरा कुछ अलग समय चल रहा था। जिसके चलते मैं अपने खेल से दूर होता चला गया। मेरी अपेक्षाएं मेरे खेल को दबाती जा रही थी।”

ज्यादा ताकत मत लगाओ बस दो कदम पीछे हो जाओ

विराट कोहली ने सूर्यकुमार यादव को आगे बताया कि –

“अगर आपको तनिक भी निराशा महसूस हो रही हो, तो आप दो कदम पीछे हट जाइए। जबरदस्ती जोर लगाने की कोई आवश्यकता नहीं है।”

विराट बोले,

“जब एशिया कप के दौरान आराम करने के बाद मैंने अपनी वापसी की, तो ट्रेनिंग और अभ्यास में मुझे बहुत मजा आ रहा था। जब भी आपको हताशा महसूस हो रही हो, आप दो कदम अपने आप को पीछे कर लो, जबरदस्ती जोर लगाने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि ऐसा करने से वह चीज आपसे और दूर होती चली जाएगी”।

जानकारी के लिए बता दें, कि सचिन तेंदुलकर से विराट कोहली अब सिर्फ 4 शतक ही पीछे चल रहे हैं।

Read Also:-IND vs SL : दो बड़े बदलावों के साथ मैदान पर उतरी श्रीलंका टीम, अपने पसंदीदा खिलाड़ी कि रोहित शर्मा दे बैठे कुर्बानी