Team India में सौरव गांगुली ने इस खिलाड़ी का सपोर्ट करते हुए दिखाया रोहित और द्रविड़ को आईना

Team India श्रीलंका दौरे से पहले अपना अंतिम मैच बांग्लादेश के खिलाफ खेली थी, जिसमें भारत के सलामी बल्लेबाज ईशान किशन ने दोहरा शतक जड़ा था। उस समय सब यही मानते थे, कि वनडे क्रिकेट के लिए ईशान किशन अपनी जगह पक्की कर चुके हैं, लेकिन कुछ और ही घटित हुआ। बांग्लादेश दौरे के बाद श्रीलंका के खिलाफ T20 सीरीज में ईशान किशन को मौका तो दिया गया, लेकिन उन्हें एकदिवसीय सीरीज के पहले मैच से बाहर रखा गया।

सौरव गांगुली का आया बड़ा बयान

ईशान किशन की वापसी को लेकर पूर्व भारतीय कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली द्वारा एक बड़ा बयान दिया गया, जिसमें सौरव का कहना है कि बहुत ही जल्द ईशान किशन टीम में वापसी कर सकते हैं। गांगुली का पूर्ण रूप से कहना है, कि “मुझे पूरा विश्वास है ईशान किशन का समय अवश्य आएगा और उन्हें अवश्य मौका भी मिलेगा”

किशन का दोहरा शतक नहीं था पर्याप्त

10 दिसंबर को चटगांव में बांग्लादेश के खिलाफ ईशान किशन 131 गेंदों पर 24 छक्के और 10 छक्कों की सहायता से 210 रन बनाने में कामयाब रहे। उनका यह दोहरा शतक सबसे तेज शतक बन गया था। अपनी इस पारी के बाद ही भारत के अगले वनडे मैच में उन्हें जगह मिल सकी।

उनके रिप्लेस पर श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के पहले वनडे में ओपनिंग की जिम्मेदारी शुभमन गिल ने संभाली। शुभमन गिल को इसलिए मौका दिया गया, क्योंकि पिछली 10 पारियों में वह 71 की बेहतरीन औसत के साथ रन बना रहे हैं।

रोहित – द्रविड़ पर करें विश्वास

वेंकटेश प्रसाद सहित कई पूर्व क्रिकेटरों द्वारा गुहावटी वनडे में ईशान किशन को बाहर करने के बाद टीम इंडिया के फैसले की कटु आलोचना की गई। हालांकि सौरव गांगुली ने इस बात पर सीधे तौर पर कुछ भी नहीं कहा है।

एक प्रचार कार्यक्रम से गांगुली ने इतर कहा, “मैं नहीं जानता यह कहना मेरे लिए बहुत मुश्किल है, भारत में भी हमारे पास बहुत अधिक लोगों की राय मौजूद हैं। मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा को अपना फैसला करने दीजिए। जो लोग वास्तव में मैदान पर खेलते हैं, उन्हें वास्तव में यह तय करने का पूरा अधिकार है कि कौन सा खिलाड़ी बेहतर है”।

Read Also:-IND vs SL : श्रीलंका के लिए दूसरे वनडे से पहले इस खिलाड़ी के चोटिल होने से आई बुरी खबर, वनडे में खेलना हुआ मुश्किल