साइना हारी कश्यप और प्रणीत चीन ओपन (China Open) के दूसरे दौर में | Bharat Gossips

साइना हारी कश्यप और प्रणीत चीन ओपन (China Open) के दूसरे दौर में

China Open: खराब फार्म से जूझ रही पूर्व ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल बुधवार को यहां स्थानीय दावेदार काइ यान यान के खिलाफ पहले दौर में हारकर सात लाख डालर इनामी चीन ओपन (China Open) बैडमिंटन टूर्नामेंट से बाहर हो गईं।

दुनिया की नौवें नंबर की खिलाड़ी साइना को महिला एकल के पहले दौर के मुकाबले में चीन की खिलाड़ी के खिलाफ सिर्फ 24 मिनट में सीधे गेम में 9-21, 12-21 से हार झेलनी पड़ी।

पुरुष एकल में साइना के पति और निजी कोच पारूपल्ली कश्यप ने थाईलैंड के सिथिकोम थमासिन के खिलाफ सीधे गेम में आसान जीत दर्ज की।

इसे भी पढ़ें : धोनी (MS Dhoni) के भविष्य पर अब होगा फैसला?, गांगुली ने रखी अपनी बात

कश्यप ने थाईलैंड के विरोधी को 43 मिनट में 21-14, 21-3 से हराया। वह दूसरे दौर में सातवें वरीय डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन से भिड़ेंगे।

विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता बी साई प्रणीत ने भी इंडोनेशिया के टामी सुगियार्तो को 52 मिनट चले कड़े मुकाबले में 15-21 21-12 21-10 से हराया। दुनिया के 11वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत अगले दौर में डेनमार्क के चौथे वरीय एंडर्स एंटोनसेन से भिड़ेंगे।

इसे भी पढ़ें : बीच मैदान पहुंचे फैन ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को गिराया, भारतीय खिलाड़ियों की सुरक्षा में भारी चूक- वायरल

हालांकि हमवतन समीर वर्मा का सफर शुरूआती दौर के मुकाबले में हारने से समाप्त हो गया। वह 45 मिनट तक चले मुकाबले में हांगकांग के ली चेयूक यिऊ से 18-21 18-21 से हार गये।

प्रणव जैरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की मिश्रित युगल जोड़ी को भी पहले दौर में हार का सामना करना पड़ा। भारतीय जोड़ी को वैंग ची लिन और चेंग ची या की चीनी ताइपे की जोड़ी के हाथों 14-21, 14-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी।

जनवरी में इंडोनेशिया मास्टर्स का खिताब जीतने के बाद से 29 साल की साइना अपनी फिटनेस को लेकर मुश्किल दौर से गुजर रही हैं।

साइना लगातार तीन टूर्नामेंट के पहले दौर में बाहर होने के बाद पिछले महीने फ्रेंच ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची थी।

वहीं मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की पुरूष युगल जोड़ी का सफर भी पहले दौर में समाप्त हो गया। उन्हें आरोन चिया और सोह वूई यिक की मलेशियाई जोड़ी ने 23-21 21-19 से पराजित किया।

admin

Next Post

पाक: Kartarpur corridor का इस्तेमाल करने वाले भारतीयों सिखों के लिये पासपोर्ट जरूरी नहीं

Thu Nov 7 , 2019
पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर गलियारा (Kartarpur corridor) का इस्तेमाल कर गुरुद्वारा दरबार साहिब आने वाले भारतीय सिख श्रद्धालुओं के लिये एक साल तक पासपोर्ट की शर्त हटा दी है। इसके उलट पाकिस्तानी सेना के एक प्रवक्ता ने पहले कहा था […]
Pak: Passport not necessary for Indians Sikhs using Kartarpur corridor