Team India के कोच Rahul Dravid का बेटा बना टीम का कप्तान पिता के जैसे ही घातक बल्लेबाजी में है माहिर

‘जैसा बाप वैसा बेटा’ यह कहावत टीम इंडिया के कोच Rahul Dravid और उनके बेटे अन्वय द्रविड़ पर एकदम फिट बैठती है। मौजूदा समय में भारत के हेड कोच राहुल द्रविड़ के बेटे अंडर- 14 क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं। अपने पिता के जैसे ही अन्वय एक विकेटकीपर बल्लेबाज हैं। अक्सर उनके बेहतरीन प्रदर्शन की चर्चाएं अखबारों में होती रहती हैं।

अन्वय के भाई भी क्रिकेट में है माहिर

राहुल द्रविड़ का बड़ा बेटा यानी अन्वय का बड़ा भाई समित द्रविड़ भी एक बेहतरीन क्रिकेटर है। अंडर -14 स्तर पर 2019 /20 सीजन के दौरान उन्होंने दो दोहरे शतक जड़कर तमाम सुर्खियां बटोरी है। पहले ही अंडर -14 स्तर पर समित द्रविड़ ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन के चलते अपना नाम बनाया और अब टूर्नामेंट के दौरान अन्वय अपना काम पूरा करेंगे।

अन्वय की टेक्निक देखने के बाद उनके पिता की याद आ जाती है। उम्मीद जताई जा रही है, कि आगे चलकर यह दोनों बेटे अपने पिता के जैसे ही भारत के लिए खेलते हुए पूरे देश का नाम रोशन करेंगे।

भारत के हेड कोच है राहुल द्रविड़

मौजूदा समय में राहुल द्रविड़ भारत के हेड कोच पद पर मौजूद हैं। इसके साथ ही वह भारत के कप्तान भी रह चुके हैं, साथ – साथ राहुल एक सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बल्लेबाज भी थे। उन्होंने जिस भी क्षेत्र में अपने हाथ डाले उसमें सफलता ही हासिल कर सके।

इसके साथ-साथ भारतीय अंडर-19 को उन्होंने विश्व चैंपियन भी बनाया। और अब उनका लक्ष्य नेशनल क्रिकेट टीम को भी वर्ल्ड कप जिताना है।

भारत जीता पहला एकदिवसीय

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे मुकाबलों में भारत न्यूजीलैंड को 12 रनों से हराने में कामयाब रहा। इस मैच के दौरान भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए शुभमन गिल के दोहरे शतक की सहायता से न्यूजीलैंड के खिलाफ 350 रनों का लक्ष्य रखने में कामयाब रही।

वही जवाब में न्यूजीलैंड की टीम 50 ओवरों में मात्र 337 रन ही बना सकी, और 12 रनों से इस मैच को हार गई। भारत इस मैच को जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर सका है। इस श्रंखला का अगला मैच 21 जनवरी को छत्तीसगढ़ के रायपुर में खेला जाएगा।

Read Also:-IND vs AUS : Team India के लिए बड़ी खुशखबरी, ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय टीम के दो सबसे बड़े मैच विनर खिलाड़ी हुए फिट, अब कर सकेंगे अपनी वापसी