कप्तानी के पद पर Rohit Sharmaनहीं, बल्कि इस खिलाड़ी को बनाया जाए कप्तान, तो बन सकता है भारत विश्व विजेता

भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन द्वारा एक ऐसा बयान दिया गया, जिस पर क्रिकेटिंग गलियारों में तहलका मच गया है। मोहम्मद अजहरुद्दीन का कहना है कि अगर भारत दुनिया जीतना चाहता है, तो T20 फॉर्मेट में Rohit Sharma को कप्तानी का पद छोड़ना ही होगा। रोहित शर्मा के रिप्लेस पर अजहरुद्दीन ने इस खिलाड़ी को कप्तान बनाने की बात कही है।

कप्तानी का पद इस खिलाड़ी को चाहिए सौंपना

मोहम्मद अजहरुद्दीन का कहना है कि –

कप्तान के रूप में इस समय हार्दिक पांड्या बेहतरीन नजर आ रहे हैं। और ऐसा प्रतीत होता है, कि वह टीम को साथ लेकर काफी आगे बढ़ सकता है लेकिन अपनी पीठ के बारे में उन्हें सावधान रहने की आवश्यकता है। क्योंकि क्योंकि लंबे समय से इसी कारण से वह बाहर चल रहा है।

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने आगे कहा कि –

भारत को ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या की बहुत आवश्यकता होगी। लेकिन हम चोटों का कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाहते। हार्दिक पांड्या के पास एक ऐसी युवा टीम मौजूद है, और यही से आगे बढ़ने का रास्ता भी है। आगामी टी-20 सीरीज में मैच विनिंग कंबीनेशन बनाने के लिए मजबूत समन्वय की बहुत अधिक आवश्यकता होगी’।

चेतन शर्मा को करना चाहिए प्रेस कॉन्फ्रेंस

अजहरुद्दीन ने आगे बताया कि –

‘चेतन शर्मा को निश्चित रूप से एक या दो प्रेस कॉन्फ्रेंस अवश्य करनी चाहिए। और इस बात को भी बताना चाहिए, कि मौजूदा भारतीय टीम के लिए आगे का रास्ता क्या हो सकता है।’

बता दें कि 1 साल से अधिक समय से मोहम्मद अजहरुद्दीन हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद पर हैं। लेकिन अरशद अयुब और शिवलाल यादव जैसे पूर्व भारतीय खिलाड़ियों के साथ प्रशासन को लेकर उनके बीच मतभेद रहे हैं।

हमने काफी कठिन परिश्रम किया है

अजहरुद्दीन ने आगे बताया कि –

‘यह अब तक बहुत अच्छा रहा है। हैदराबाद क्रिकेट संघ की खोई हुई प्रतिष्ठा को बहाल करने के लिए हम लड़ते नजर आ रहे हैं। स्टेडियम के साथ-साथ ड्रेसिंग रूम में भी हमने बहुत अधिक काम किया है। जब मैंने इस कार्यभार को संभाला, तो यह सब बहुत ही दयनीय अवस्था में था। 3 महीनों में हम अपने दूसरे अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी करते नजर आएंगे। हमें बहुत खुशी है, कि बीसीसीआई द्वारा हमारी कड़ी मेहनत को पहचाना गया है, और जिसके चलते हमें मैच भी आवंटित किए जा रहे हैं।

Read Also:-रणजी में तिहरा शतक जड़कर Prithvi Shaw ने रचा इतिहास 400 रनों से चूके फिर भी कई रिकॉर्डो को किया ध्वस्त