इंडियन प्रीमियर लीग(IPL) विश्व का सबसे दिलचस्प टूर्नामेंट में से एक है. यह न केवल दर्शकों के लिए बल्कि खिलाड़ियों में भी इस लीग में खेलने को लेकर गहरी उत्सुकता होती है. और हो भी क्यों न. यह लीग लोगों को कम समय में मोटी राशि कमाने का मौका देता है. लेकिन पिछले कुछ सालों में आईपीएल कई बड़े विवादों से गुजरा. फिर भी सच यह है कि आईपीएल प्रशंसकों से सच छुपाता है. लेकिन हम आपको आईपीएल से जुड़े 5 ऐसे सच से रूबरू कराने जा रहे है. जिसे सुनते ही आपके होश उड़ जाएंगे. और इसे जानना आपके लिए बहुत जरूरी भी है.

1. IPL का ब्लॉग, बना चर्चा का विषय

आईपीएल 2009 के समय यह ब्लॉग चर्चा का विषय बना हुआ था। इस ब्लॉग पर कोलकाता नाइट राइडर्स के टीम के विषय में लिखा गया था। इस ब्लॉग में शाहरुख खान एक लिए गंदे शब्दों का प्रयोग किया गया था। इसके अलावा सचिन तेंदुलकर को लेकर भी कई खराब शब्द लिखा गया..

2. प्लेइंग इलेवन ना मिलने पर निकाली भड़ास

शुरुआत में आकाश चोपड़ा और संजय बांगर पर शक किया गया कि ये ब्लॉग उनके द्वारा ही लिखा गया है क्योंकि शुरुआत में उस ब्लॉग पर लिखा था कि वो प्लेइंग इलेवन में जगह न मिलने के कारण अपनी भड़ास निकाल रहा है। बाद में पता चला कि इस ब्लॉग को अनुपम मुखर्जी नाम का एक शख्स हैंडल कर रहा था।

3. अश्लीलता के लगे आरोप

साल 2012 में विदेशी चीयरलीडर्स ने यह कहकर सबको चौंका दिया कि भारतीय दर्शक उनको गंदे-गंदे इशारे करते हैं और अश्लील शब्दों का प्रयोग करते हैं। उन्हें छोटे-छोटे कपड़े पहनाकर नाचने को कहा जाता है जबकि भारतीय चीयरलीडर्स को पूरे और परंपरागत कपड़े पहनाकर नाचने को कहा जाता है

4. लक्सरी लाइफस्टाइल से बेखबर BCCI

आईपीएल के अनकैप्ड खिलाड़ियों के पास आय का अप्रत्यक्ष तरीका भी होता है। उल्लेखनीय रूप से, कार और कई लक्जरी वस्तुएं एवं व्यावसायिक भागीदारी जैसे पुरस्कार उन्हें दिए जाते हैं लेकिन बीसीसीआई को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है.

5. BCCI ने उठाए ये सख्त कदम

मैच फिक्सिंग को लेकर विवादों से आईपीएल का बड़ा गहरा नाता रहा है। साल 2012 और 2013 में स्पॉट फिक्सिंग में कई बड़े खिलाड़ियों का नाम सामने आया। बीसीसीआई ने कड़ा रुख अपनाते हुए कुछ खिलाड़ियों के ऊपर आजीवन प्रतिबंध भी लगाया गया जबकि चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स टीम के ऊपर 2-2 साल का प्रतिबंध भी लगाया गया.