IPL 2022: भारत देश में इन दिनों आईपीएल का खुमार सर चढ़कर बोल रहा है. आईपीएल का 15 वा सीजन काफी धमाकेदार रहा आई पी एल 2022 के करीब 70 लीग मैच पूरे हो चुके हैं. चार टीमें प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं, जबकि 6 टीमें टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं. बाहर होने वाली टीमों में से 3 ऐसे थे जिनके पास ऐसे खिलाड़ी थे जो भले टूर्नामेंट से बाहर हो गई हूं लेकिन उन्हें खेलने का मौका मिलना चाहिए था. हम आपको उन तीन युवक खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं..

हम बात कर रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर, यश धुल और राजवर्धन हंगरगेकर की। मुंबई इंडियंस ने अर्जुन तेंदुलकर को खरीदा था, जबकि यश धुल को दिल्ली कैपिटल्स ने अपने साथ जोड़ा था। वहीं, चेन्नई सुपर किंग्स ने राजवर्धन हंगरगेकर के ऊपर बोली लगाई गई थी। ये तीन ऐसे युवा खिलाड़ी थे, जो अपनी बारी का इंतजार करते रहे और टीम ने अपने 14-14 मैच खेल लिए, लेकिन इन खिलाड़ियों को सिर्फ बेंच गर्म करने का मौका मिला.

ये भी पढ़ें- बार में जमकर नाचे Ravi Shastri, वायरल हो रहा धमाकेदार वीडियो

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर जिन्हें मुंबई ने 20 लाख की बेस प्राइस में खरीदा था. मुंबई के सभी गेंदबाज और ऑलराउंडर लगातार फाइट कर रहे थे लेकिन कैप्टन रोहित शर्मा और टीम मैनेजमेंट ने उन्हें एक भी मौका नहीं दिया.

अंडर-19 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी विद आने वाले दूसरे नंबर पर नाम यश धुल का है, काफी अच्छा प्रदर्शन और अच्छा खेल दिखाने के बावजूद उन्हें दिल्ली कैपिटल्स ने एक भी मौका तक नहीं दिया.

आईपीएल 2022 से पहले माना जा रहा था कि चेन्नई सुपर किंग्स दीपक चाहर की अनुपस्थिति में राजवर्धन हंगरगेकर को मौका देगी, लेकिन रविंद्र जडेजा के बाद एमएस धोनी टीम के कप्तान बन गए और उन्हें एक बार भी अवसर नहीं दिया गया.

ये भी पढ़ें- Viral Video: शेर से छेड़छाड़ करना पड़ा युवक को भारी, पिंजरे के अंदर से ही चबा ली उंगली