IND vs AUS : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में रोहित शर्मा नहीं देंगे इन तीन खिलाड़ियों को प्लेइंग XI में मौका

IND vs AUS : भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी की शुरुआत अगले महीने से होने वाली है, जिसका पहला मैच 9 फरवरी से नागपुर में खेला जाएगा। भारत के लिए यह सीरीज बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि इस सीरीज में भारतीय टीम जीत हासिल कर लेती है, तो विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारतीय टीम अपनी जगह बना सकती है।

इस टेस्ट सीरीज के दौरान कई ऐसे खिलाड़ियों का चयन किया गया है। जिन्हें पूरी सीरीज में शायद बेंच गर्माते ही देखा जा सकता है। आइए जानते हैं ऐसे ही 3 खिलाड़ियों के बारे में।

ईशान किशन

ईशान किशन का भी इस टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम में चयन किया गया है। वह टेस्ट टीम में पहली बार चुने गए हैं। ऋषभ पंत की चोट के कारण उनके रिप्लेस पर ईशान किशन को विकेटकीपर के तौर पर चुना गया है। इसके अतिरिक्त टेस्ट सीरीज के लिए विकेटकीपर के रूप में के एस भरत का चयन भी किया गया है।

पिछले काफी समय से भरत भारतीय टीम के साथ जुड़े हुए हैं। इसके साथ भारतीय टीम की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में वह अपना डेब्यू कर सकते हैं। जिसके चलते ईशान किशन को पूरी सीरीज में बाहर बैठना पड़ सकता है।

कुलदीप यादव

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाले पहले दो टेस्ट मैचों के लिए टीम में चार स्पिनरों का चयन किया गया है, उन स्पिनरों में कुलदीप यादव का नाम भी शामिल है। हालांकि टेस्ट सीरीज के दौरान किन्हीं दो या तीन स्पिनरों को भी खेलने का चांस मिल सकेगा, जिसमें आर अश्विन और रवींद्र जडेजा का खेलना तो निश्चित ही है।

वहीं तीसरे स्पिनर के रूप में भारतीय टीम अक्षर टीम को खेलने के लिए टीम में शामिल कर सकती है। क्योंकि गेंदबाजी के साथ-साथ वह बल्लेबाजी में भी काबिलियत रखते हैं। इन्हीं कारणों के चलते पूरी सीरीज में कुलदीप यादव को बाहर बैठना पड़ सकता है।

जयदेव उनादकट

जयदेव उनादकट का चयन बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी किया गया है, लेकिन उनका प्लेइंग इलेवन में अपनी जगह बनाना बहुत ही कठिन साबित हो सकता है। क्योंकि भारतीय टीम में उनके अतिरिक्त तेज गेंदबाज के रूप में मोहम्मद सिराज, मोहम्मद शमी और उमेश यादव का चयन किया गया है।

इनमें मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज का खेलना तो लगभग निश्चित ही है। तीसरे गेंदबाज के तौर पर भारतीय टीम उमेश यादव को शामिल कर सकती है‌। इन्हीं कारणों के चलते भारतीय टीम की प्लेइंग इलेवन में जयदेव उनादकट का अपनी जगह बनाना काफी कठिन साबित हो सकता है।

Read Also:-IND vs NZ : शिकस्त के बाद न्यूजीलैंड के कप्तान ने भारत की जीत का मुख्य कारण सूर्यकुमार यादव की चालाकी बताया…