IND vs AUS : ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैंट कमिंस की एक गलती पड़ी पूरी टीम पर भारी, भारतीय टीम के सामने टेकने पड़े घुटने

IND vs AUS : भारत आस्ट्रेलिया को खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट मुकाबले में एक पारी और 132 रनों से हराने में कामयाब रहा। भारतीय टीम बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में 1-0 से बढ़त हासिल करने में कामयाब रही। वहीं ऑस्ट्रेलिया पहली पारी में मात्र 177 रनों पर सिमट कर रह गई। जवाब में भारतीय टीम स्कोरबोर्ड पर 400 रनों का स्कोर बनाने में कामयाब रही, वहीं आस्ट्रेलिया पहली पारी में 223 रनों से पीछे रह गई।

वहीं दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत के सामने एक बार फिर से पस्त नजर आई और मात्र 91 रनों पर ही ऑल आउट हो गई, जिसके चलते भारत ऑस्ट्रेलिया को पहले टेस्ट में हराने में कामयाब रहा।

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने बनाए मात्र 91 रन

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई टीम को मात्र 223 रनों का लक्ष्य मिला, जिसका पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की शुरुआत बहुत खराब रही। रवि आश्विन के सामने सलामी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा नहीं टिक सके और मात्र 5 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद मार्नस लाबुशेन‌ भी कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके, और कुछ चौके जड़ने के बाद ही उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा।उन्होंने रविंद्र जडेजा को अपना विकेट सौंप दिया, वही सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर भी बहुत अधिक देर तक नहीं टिक सके और मात्र 10 रन बनाकर रविचंद्रन अश्विन के हत्थे चढ़ गए।

ऑस्ट्रेलिया के टॉप बल्लेबाज स्टीव स्मिथ इस बारे में धैर्य रखते हुए आखिरी तक बल्लेबाजी करते नजर आए, और 25 रन बनाकर नाबाद रहे। वहीं दूसरी तरफ से किसी बल्लेबाज द्वारा 10 रन से अधिक नहीं बनाए जा सके, जिसके चलते पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को मात्र 91 रन बनाकर ही पवेलियन लौटना पड़ा।

रोहित शर्मा के इस फैसले ने दिलाई भारत को जीत

जहां पहली पारी में रवींद्र जडेजा वहीं दूसरी पारी में रविचंद्रन अश्विन 5 विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया के ऊपर भारी पड़ गए। दूसरी पारी में अश्विन 12 ओवर में 37 रन देकर 5 विकेट हासिल करने में कामयाब रहे, इसके अतिरिक्त 2 विकेट रवींद्र जडेजा को मिले तो वहीं 2 विकेट मोहम्मद शमी को भी मिल सके, इसके अतिरिक्त अक्षर पटेल मात्र एक विकेट ही हासिल कर सके।

ऑस्ट्रेलियाई टीम इस मैच को आसानी से अपने नाम कर सकती थी, लेकिन आस्ट्रेलियाई कप्तान पैंट कमिंस पिच को अच्छे से नहीं समझ सके और मात्र दो स्पिनरों के साथ मैदान पर उतर कर बहुत बड़ी गलती कर दी, क्योंकि भारतीय टीम तीन स्पिनरों के साथ मैदान पर उतरी। मैच के दौरान देखा गया, कि इस पिच पर स्पिनरों का बोलबाला था। जहां ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मर्फी 7 विकेट लेने में कामयाब रहे, वहीं भारत की तरफ से आश्विन 8 और रवींद्र जडेजा 7 विकेट झटकने में कामयाब रहे।

Read Also:-Suryakumar Yadav ने टेस्ट फॉर्मेट में पदार्पण करते ही बनाया ऐसा रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले बने पहले भारतीय खिलाड़ी