Ajinkya Rahane ने किया बड़ा दावा, विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा और अपनी बैटिंग औसत गिरने का बताया कारण

रणजी ट्रॉफी के दौरान दोहरा शतक जड़ने वाले Ajinkya Rahane कि अब भी भारत के लिए खेलने की उम्मीद बरकरार है। उन्होंने इस दौरान एक दिलचस्प पहलू पर बात की जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है रहाणे ने बताया कि पिछले 3 सालों में आखिर विराट कोहली चेतेश्वर पुजारा और उनकी बल्लेबाजी औसत में गिरावट क्यों आ रही है इसका कारण उन्हें भारतीय पिचों की प्रकृति को बताया।

हार्दिक पांड्या को टी-20 के साथ ODI टीम की कमान भी मिल सकती है

रहाणे ने स्पष्ट किया, कि इस दौरान किसी प्रकार की कोई गलती नहीं हुई थी। पिछले 3 वर्षों से हम भारत में खेल रहे थे, अगर उन खिलाड़ियों को देखा जाए, जो तीसरे, चौथे और पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे हैं। तो उनका औसत विकेटों के चलते नीचे आ गया है, जी हां इस दौरान मेरा, पुजारा और विराट का औसत नीचे गिर गया है।

उन्होंने फिर कहा, कि मैं नहीं मानता कि बहुत सी गलतियां थी। ऐसा हर बार नहीं होता, कि हमसे गलतियां ही हो रही हैं। कभी-कभी ऐसे विकेट भी होते थे, यह किसी प्रकार का कोई बहाना नहीं है, लेकिन भारत के सभी लोगों ने इस बात को देखा है, कि हमारे पास किस तरह के विकेट मौजूद हैं।

34 वर्षीय रहाणे भारत के लिए 82 टेस्ट खेले, जिनमें से पिछले 3 सालों में 17 खेले गए। साल 2020 -21 सीजन में 14 पारियों (8 टेस्ट) उनका औसत 29.23 रहा। जबकि 2021-22 में 9 पारियों (5 टेस्ट) में गिरकर 19 रह गया 2021-22 सीजन के दौरान आठ पारियों (4 टेस्ट) मैं उनका औसत , 21.87 रहा। साल 2021 में उनका इकलौता शतक ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर लगा, जबकि पिछले 3 सालों में 2 अर्धशतक जड़े।

फरवरी 2021 में रहाणे 17 में से 5 टेस्ट भारत के लिए खेलें। भारतीय टीम का सामना इस दौरान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के साथ हुआ। इन टीमों के खिलाफ रहाणे 9 पारियों में मात्र 1 अर्धशतक जड़ सकें।

उन्होंने कहा कि एक बल्लेबाज के रूप में यह हमेशा चुनौतीपूर्ण होगा, विशेष रूप से उस समय जब आपके द्वारा मध्यक्रम में बल्लेबाजी की जा रही हो। सलामी बल्लेबाजों के लिए यह आसान होता है, क्योंकि वह सख्त गेंद के साथ खेलते हैं, लेकिन जब किसी समय एक बल्लेबाज आउट होता है, तो हम बस यही सोचते हैं क्या कि हमसे कहा गलती हो गई।

Read Also:-उर्वशी और ऐश्वर्या ‘Mirzapur’ के मुन्ना भैया की बहन की सुंदरता बोल्डनेस और स्माइल के सामने पड़ जाती हैं फीकी