Video: Three laborers committed suicide in Andhra Pradesh, reason for not getting work
Video: Three laborers committed suicide in Andhra Pradesh, reason for not getting work

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में इस महीने अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों ने खुदकुशी कर ली. ऐसा माना जा रहा है कि आजीविका के लिए ये लोग कंस्ट्रक्शन क्षेत्र पर निर्भर थे और उन्हें काम नहीं मिल रहा था. ये तीनों घटनाएं आंध्र प्रदेश के तेनाली, गुंटूर और मंगलगिरी की हैं. कई लोग इसे रेत पर राज्य सरकार की नई नीति के चलते निर्माण क्षेत्र में आई गिरावट से जोड़कर देख रहे हैं. गुंटूर में रहने वाले वेंकटेश ने फांसी लगाकर खुदकुशी करने से पहले एक सेल्फी रिकॉर्ड (Video) की थी.

इसे भी पढ़ें : विश्व बैंक की ‘कारोबार में सुगमता’ रिपोर्ट में भारत अब और ऊपर चढ़कर 63वें पायदान पर पहुंच गया है

तीन हफ्ते पहले रिकॉर्ड किया गया यह वीडियो (Video) अब वायरल हो रहा है. वीडियो में उसे यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वह इसलिए खुदकुशी कर रहा है क्योंकि वह बेरेजगार था और उसके पास जीविकोपार्जन के लिए कोई दूसरा साधन नहीं है. पत्नी राशि ने कहा कि वेंकटेश पिछले चार महीनों से बेरोजगार था. राशि ने कहा, ‘हमारी आजीविका केवल निर्माण क्षेत्र पर निर्भर थी. मेरे पति को कोई दूसरा काम नहीं आता था. हमारा एक बेटा है जो बीमार है और उसे भी इलाज की जरूरत है.’

इसे भी पढ़ें : आपत्तिजनक वीडियो हटाए फेसबुक और गूगल, हाईकोर्ट (Delhi High Court) का आदेश- बाबा रामदेव के खिलाफ

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) ने एक वीडियो ट्वीट किया है जो माना जाता है कि वह वेंकटेश का है. इस वीडियो के माध्यम से टीडीपी प्रमुख ने वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) पर निशाना साधा और कथित तौर पर रेत माफियाओं से सांठगांठ का आरोप लगाया. टीडीपी प्रमुख ने लिखा, ‘बिना काम या परिवारों के भूखे रह रहे मज़दूरों को पांच महीने से खुदकुशी करते देखना दिमाग को झकझोरने वाला है. सरकार को अब जागना चाहिए.