Uddhav Thackeray will take oath as Chief Minister on December 1
Uddhav Thackeray will take oath as Chief Minister on December 1

शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस ने ट्राइडेंट होटल में बैठक की जिसमें उद्धव ठाकरे, शरद पवार, अशोक चव्हाण सहित तमाम बड़े नेता मौजूद रहे। बैठक में गठबंधन को महाविकास अघाड़ी बनाने का प्रस्ताव रखा गया। इसके बाद उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को महाविकास अघाड़ी का नेता चुना गया। इस दौरान उद्धव ने शरद पवार के पैर भी छुए। एनसीपी के जयंत पाटिल ने उद्धव ठाकरे का नाम सीएम पद के लिए प्रस्तावित किया, कांग्रेस के बालासाहेब थोराट व अन्य नेताओं इसका समर्थन किया।

इसे भी पढ़ें : राज्य विधानसभा निलंबित अवस्था में महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू (President’s rule)

महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) होंगे। मुंबई के होटल ट्राइडेंट में हुई कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की बैठक में इसपर मुहर लग गई। एनसीपी ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा और बाकी दलों ने इसे मंजूर कर लिया। मंगलवार को पहले अजित पवार और उसके बाद देवेंद्र फडणवीस ने इस्तीफा दे दिया जिसके बाद महाराष्ट्र में सरकार को लेकर सभी अटकलें खत्म हो गईं। 

गठबंधन का नेता चुने जाने के बाद उद्धव ठाकरे भाजपा पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि मैंने कभी सपने में नहीं सोचा था कि सीएम बनूंगा। ऐसा मौका जीवन में पहली बार आया है। भाजपा ने हमारे साथ विश्वासघात किया, उन्होंने 30 साल की दोस्ती तोड़ी। भाजपा के मन में हमारे प्रति जहर है। फडणवीस की बात सुनकर मुझे दुख हुआ। हम परिवार के तौर पर काम करेंगे, जिससे आम लोगों को लगे कि उनकी सरकार है।

इसे भी पढ़ें : Live Updates: फडणवीस फिर बने मुख्यमंत्री, अजित पवार डिप्टी सीएम, महाराष्ट्र में बड़ा उलटफेर

उन्होंने कहा कि मैं आप सबके द्वारा दी गई जिम्मेदारी को स्वीकार करता हूं। मैं अकेला मुख्यमंत्री नहीं हूं आप सब मेरे साथ मुख्यमंत्री हैं। जो सब आज हुआ असल में वही लोकतंत्र है। हम सब साथ मिलकर राज्य के किसानों के आंसू पोछेंगे। मैं देवेंद्र फडणवीस द्वारा उठाए गए सभी प्रश्नों का जवाब देने को तैयार हूं। झूठ हिंदूत्व का हिस्सा नहीं है।