images 33 दोबारा DDCA अध्यक्ष पद का कार्यभार संभाला Rajat Sharma ने...

रजत शर्मा (Rajat Sharma) ने 16 नवंबर को दिए गए अपने डीडीसीए (DDCA) अध्यक्ष पद से इस्तीफे को वापस ले लिया है। उन्होंने इस्तीफा वापस लेने की वजह लोकपाल की ओर से निकाले गए आदेश को बताया है। शर्मा ने इस्तीफा वापस लेने के बाद दोबारा पदभार भी संभाल लिया। डीडीसीए अध्यक्ष ने सभी सदस्यों से ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ उन्हें सहयोग करने की अपील की है। यही नहीं उन्होंने साफ किया है कि उनकी बिना अनुमति के अपेक्स काउंसिल की कोई भी बैठक आयोजित नहीं होगी।

उन्होंने किसी भी सदस्य से उनकी बिना अनुमति के अपेक्स काउंसिल की बैठक नहीं बुलाने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि विनोद तिहारा गुट की ओर से मंगलवार को अपेक्स काउंसिल की बैठक बुलाई गई है। रजत शर्मा ने इस बैठक को अवैध करार देते हुए रद्द बताया है। लोकपाल 27 नवंबर को इस पूरे मामले की सुनवाई करने जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : राज्य विधानसभा निलंबित अवस्था में महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू (President’s rule)

इससे पहले दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) लोकपाल न्यायमूर्ति (रिटायर) बदर दुर्रेज अहमद ने रविवार को वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के इस्तीफे को खारिज कर दिया था और आदेश दिया था कि वह डीडीसीए के अध्यक्ष के रूप में अपनी भूमिका जारी रखें।

मालूम हो कि वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने बीते शनिवार (16 नवंबर) सुबह रजत शर्मा (Rajat Sharma) ने यह कहते हुए अपने इस पद से इस्तीफा दे दिया था कि वह किसी भी कीमत पर अपनी ईमानदारी से समझौता नहीं करेंगे। शर्मा ने अपने ट्वीट के माध्यम से लिखा था, ‘प्रिय सदस्यों ,जबसे आपने मुझे DDCA का अध्यक्ष चुना है मैं समय समय पर आपको अपने काम के बारे में जानकारी देता रहा हूं। मैंने DDCA को बेहतर बनाने के लिए, प्रोफेशनल और पारदर्शी बनाने के लिए जो कदम उठाए उसके बारे में आपको बताया। आपसे किए गए वादों के पूरा होने की जानकारी दी।’

इसे भी पढ़ें : बताई असलियत, सलमान के 55 लाख के घर देने की वायरल खबर पर रानू मंडल ने तोड़ी चुप्पी

बता दें कि पत्रकार रजत शर्मा को पिछले साल जुलाई 2018 में डीडीसीए का अध्यक्ष चुना गया था। इस रेस में रजत शर्मा ने पूर्व क्रिकेटर मदनलाल को पीछे छोड़ा था।