नवरात्रों (Navaratr) में गुजरात में गरबा नृत्य की धूम होती है. पारंपरिक परिधानों के साथ इस नृत्य में हिस्सा लेने के लिए कई दिन पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती है.

नवरात्रों (Navaratri) में गुजरात में गरबा नृत्य की धूम होती है. पारंपरिक परिधानों के साथ इस नृत्य में हिस्सा लेने के लिए कई दिन पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती है. महिलाओं में इस परंपरा को लेकर काफी क्रेज होता है. लेकिन सूरत में इस बार कुछ अलग ही देखने को मिल रहा है.

कई युवतियों ने इन बार जम्मू-कश्मीर से हटाए गए अनुच्छेद 370, 35 ए हटाने के समर्थन में अपनी पीठ में टैटू बनवाएं है. इतना ही एक टैटू चंद्रयान-2 को लेकर भी काफी दिख रहा है. इसके साथ ही हाल में लागू किए मोटर व्हीकल ऐक्ट के समर्थन में युवतियां टैटू बनवा रही हैं.

आज नवरात्र का पहला दिन है. नवरात्रि (Navratri) के पहले दिन मां दुर्गा (Maa Durga) के प्रथम रूप शैलपुत्री (Shailputri) का पूजन किया जाता है. मान्‍यता है कि शैलपुत्री पर्वतराज हिमालय की बेटी हैं. नवरात्रि में शैलपुत्री पूजन का विशेष महत्‍व है. मान्‍यता है कि इनके पूजन से मूलाधार चक्र जाग्रत हो जाता है. कहते हैं कि जो भी भक्‍त श्रद्धा भाव से मां की पूजा करता है उसे सुख और सिद्धि की प्राप्‍ति होती है.

दूसरी ओर हैदराबाद में बजरंग दल ने ‘गरबा और डांडिया’ आयोजकों से कहा कि ‘गैर-हिंदू समुदायों’ से जुड़े लोगों का गरबा स्थल में प्रवेश रोकने के लिए नवरात्रि के दौरान होने वाले समारोहों में हिस्सा लेने वालों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य बनाएं. संगठन ने आयोजकों से कहा कि गैर-हिंदुओं का पता लगाने के लिए प्रवेश स्थल पर आधार कार्ड अनिवार्य करें.

Leave a comment

Your email address will not be published.