More than 29,000 farmers who did not burn straw in Punjab got compensation
More than 29,000 farmers who did not burn straw in Punjab got compensation

पंजाब सरकार ने पराली नहीं जलाने वाले और गैर बासमती चावल की फसल लेने वाले 29,343 छोटे और सीमांत किसानों के बीच (Punjab govt compensation) 19 करोड़ रूपये का वितरण किया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

सरकार ने उन छोटे और सीमांत किसानों को 2500 रूपये प्रति एकड़ देने का फैसला किया है जो पराली जलाने से दूर रहे हैं। पराली जलाने से बहुत वायु प्रदूषण फैलता है।

इसे भी पढ़ें : Air pollution: दो दिनों तक दिल्ली-एनसीआर में बंद रहेंगे स्कूल

कृषि सचिव कहान सिंह पन्नू ने कहा कि मुआवजा सीधे किसानों के बैंक खातों में पहुंचा दिया गया। क्षेत्रीय अधिकारियों ने इन किसानों की सूची दी थी।

images 27 पंजाब में पराली नहीं जलाने वाले 29,000 से अधिक किसानों को मिला मुआवजा (Punjab govt compensation)
Punjab govt compensation

पन्नू ने कहा कि अबबतक 85,000 आवेदन आए हैं । आवेदन देने की अंतिम तारीख 30 नवंबर है।

इसे भी पढ़ें : Air pollution: न्यायालय ने कहा- यह दिल्ली-एनसीआर में करोड़ों लोगों की जिंदगी मौत का सवाल है

उन्होंने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ हर आवेदन का ग्राम पंचायत और बाद में राजस्व अधिकारियों द्वारा सत्यापन करना होता है ताकि केवल गैर बासमती फसलों की खेती करने और अपने खेतों के किसी भी हिस्से में पराली नहीं जलाने वाले पांच एकड़ तक की जमीन के किसान परिवारों के लिए मुआवजे की सिफारिश की जाए। ’’

इसे भी पढ़ें : Amazing facts of Facebook

पन्नू ने चेतावनी दी कि गलत सिफारिश करने वाले किसी भी सरपंच या राजस्व अधिकारी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।