Tejas Express

देश में पहली बार ट्रेन के लेट होने पर यात्रियों को इसके लिए मुआवजा मिलेगा। आईआरसीटीसी (IRCTC) ने मंगलवार को कहा है कि 4 अक्‍टूबर से लखनऊ-नई दिल्‍ली रूट पर चलने वाली भारत की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस यदि लेट होती है तो ट्रेन के यात्रियों को इसका मुआवजा दिया जाएगा।

आईआरसीटीसी (IRCTC) के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि यदि तेजस एक्‍सप्रेस अपने निर्धारित समय से एक घंटा देरी से चलती है तो यात्रियों को 100 रुपए का भुगतान किया जाएगा और यदि यह ट्रेन दो घंटे से ज्‍यादा देरी करती है तो यात्रियों को 250 रुपए दिए जाएंगे।

हासिल करने के लिए यात्रियों को यात्रा, देरी का समय, पीएनआर नंबर और बैंक एकाउंट की जानकारी उपलब्‍ध करानी होगी। इंश्‍योरेंस कंपनी मुआवजा राशि को सीधे यात्री के बैंक खाते में ट्रांसफर करेगी।

मुआवजा के अलावा यात्रियों को 25 लाख रुपए का इंश्‍योरेंस कवर भी मुफ्त में प्रदान किया जाएगा, जिसमें यात्रा के दौरान चोरी या डकैती के लिए एक लाख रुपए का बीमा भी शामिल है।

लखनऊ-नई दिल्‍ली तेजस एक्‍सप्रेस की शुरुआत 4 अक्‍टूबर को उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ हरी झंडी दिखाकर करेंगे। यह ट्रेन मंगलवार को छोड़कर सप्‍ताह में छह दिन चलेगी। लखनऊ-नई दिल्‍ली की यात्रा के लिए एसी चेयर कार का कि‍राया 1125 रुपए और एक्‍जीक्‍यूटिव चेयर कार का किराया 2310 रुपए होगा।

नई दिल्‍ली-लखनऊ यात्रा के लिए एसी चेयर कार का किराया 1280 रुपए और एक्‍जीक्‍यूटिव चेयर कार का किराया 2450 रुपए होगा। यह ट्रेन नई दिल्‍ली से अपरान्‍ह 3:35 बजे चलेगी और लखनऊ रात 10:05 पर पहुंचेगी। यह ट्रेन लखनऊ से सुबह 6:10 पर चलेगी और दोपहर 12:25 पर नई दिल्‍ली पहुंचेगी।

तेजस एक्‍सप्रेस में एक 56-सीटर एक्‍जीक्‍यूटिव क्‍लास एसी चेयर कार और नौ 78-सीटर एसी चेयर कार होंगी। प्रत्‍येक एक्‍जीक्‍यूटिव और एसी चेयर कार में 5 सीटें विदेशी पर्यटकों के लिए आरक्षित रहेंगी। इस ट्रेन में डायनामिक फेयर स्‍कीम लागू होगी और इसमें किसी प्रकार की कोई रियायत नहीं दी जाएगी। 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्‍चों के लिए भी इसमें पूरा टिकट लगेगा। तेजस एक्‍सप्रेस में तत्‍काल टिकट की सुविधा भी नहीं दी जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.