A rape victim was handed over while going to court: #KabTakNirbhaya
A rape victim was handed over while going to court: #KabTakNirbhaya

#KabTakNirbhaya: यूपी के उन्नाव जिले में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। पीड़िता आज सुबह करीब चार बजे अपने मुकदमे में पेशी पर कानपुर इलाहाबाद पैसेंजर ट्रेन से रायबरेली जाने के लिए निकली थी। तभी रास्ते में गौरा मोड़ के पास गांव के शुभम, शिवम, हरिशंकर त्रिवेदी और उमेश ने उसे घेर लिया। मारपीट के बाद पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

पीड़िता द्वारा पुलिस को पूर्व में दी गई तहरीर के अनुसार जनवरी 2018 को गांव का ही युवक शिवम त्रिवेदी पीड़िता को शादी का झांसा देकर रायबरेली लेकर गया था। 19 जनवरी 2018 को रायबरेली में शादी का शपथपत्र भी बनवाया। इसके बाद अलग-अलग स्थानों पर रखकर दुष्कर्म किया।

12 दिसंबर 2018 को शिवम और ग्राम प्रधान के पुत्र शुभम ने गांव में सामूहिक दुष्कर्म किया। संबंधित थाने में शिकायत के बाद भी पुलिस की ओर से इस मामले में कार्रवाई न होने पर पीड़िता ने महिला आयोग और न्यायालय की शरण ली।

ये भी पढ़ें: 24 लोगों ने किया दुष्कर्म, मॉडल बनना चाहती थी मध्यप्रदेश की नाबालिग लड़की

महिला आयोग के निर्देश पर उन्नाव के बिहार थाना पुलिस ने 4 मार्च 2019 को सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की। अगले ही दिन 5 मार्च 2019 को रायबरेली जिले के लालगंज थाना पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज की।

तब से आरोपी पीड़िता पर सुलह का दबाव बना रहे थे। गुरुवार सुबह जब पीड़िता अपने मुकदमे में पेशी पर कानपुर इलाहाबाद पैसेंजर ट्रेन से रायबरेली जाने के लिए बिहार हाल्ट स्टेशन जा रही थी तभी आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम दिया।

#KabTakNirbhaya

पिता की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां पीड़िता की हालत गंभीर देख कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया। कानपुर के बाद अब पीड़िता को लखनऊ रेफर कर दिया गया है। एसपी विक्रांत वीर ने बताया कि घटना के तत्काल बाद पीड़िता के बयान के आधार पर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी दो आरोपियों की तलाश के लिए चार टीमें बनाई गई हैं। पीड़िता लखनऊ में सिविल अस्पताल के बर्न यूनिट में भर्ती है। पीड़िता को देखने एडीजी जोन एसएन सावंत सिविल अस्पताल पहुंचे।

90 प्रतिशत जल चुकी है पीड़िता

निदेशक डॉ. डीएस नेगी का कहना है कि पीड़िता 90 प्रतिशत जल चुकी है। इलाज के लिए अपनी पूरी टीम लगा रखी है। पीड़िता सुबह सवा 10 बजे सिविल अस्पताल पहुंची थी। सिविल अस्पताल के प्लास्टिक सर्जन डॉ. प्रदीप तिवारी पीड़िता का इलाज कर रहे हैं। वरिष्ठ अधिकारीगण मौके पर मौजूद हैं।

घटना की गहन तफ्तीश की जा रही है। इस घटना से जुड़े कुछ और तथ्य भी मिले हैं, जिनकी पुलिस जांच कर रही है। पीड़िता को पेन किलर समेत फ्लूड चढ़ाया गया है। सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन पीड़िता को देखने सिविल अस्पताल पहुंचे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव मामले में पीड़िता का इलाज सरकारी खर्च पर कराए जाने व आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने के प्रशासन को आदेश दिए हैं। वहीं अखिलेश यादव ने इस मामले मे योगी सरकार से सामूहिक इस्तीफे की मांग की है।

आईजी ने बाताया कि पांच दिन पहले 30 नवंबर को मुख्य आरोपी हाईकोर्ट से जमानत पर जेल से बाहर आया था। उसके बाद से ही बदला लेने का मौका ढूंढ रहा था। आज मौका पाकर चार साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया। 

उन्नाव रेप पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया जाएगा। जानकारी के अनुसार एयर एंबुलेंस से पीड़िता को दिल्ली ले जाया जा रहा है। इसके लिए एयरलिफ्ट कराने की तैयारी शुरू हो गई है। लखनऊ पुलिस को ग्रीन कॉरिडोर बनाने के निर्देश दिए गए हैं। 

#KabTakNirbhaya