The Kashmir Files: विवेक अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मीर फाइल इन दिनों चारों ओर चर्चित है कश्मीर फाइल्स उन फिल्मों में से है जिसकी एक तरफ जबरदस्त तारीफ हो रही है वहीं दूसरी तरफ को आलोचना भी हो रही है. यह फिल्म विवादों में घिरी हुई है, फिल्म देखने के बाद हर कोई अपनी राय रख रहा है. कश्मीरियों के दर्द को दिखाती ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर गदर मचा रही है. इससे पहले कभी कोई बॉलीवुड फिल्म नहीं देखी. यही कारण है कि इस फिल्म ने कई रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और जल्द ही यह 200 करोड़ के क्लब में शामिल हो जाएगी.

फिल्म देखने के बाद लोग इस बात पर ध्यान लगा रहे हैं आखिर यह फिल्म क्यों बनाई गई, इन लोगों के सवाल का जवाब एक्ट्रेस पल्लवी जोशी ने दिया है उन्होंने एक इंटरव्यू में बातचीत के दौरान इस बात का खुलासा किया कि क्यों उन्होंने अपने पति से विवेक अग्निहोत्री के साथ मिलकर यह फिल्म बनाई और बार-बार लोगों को इस फिल्म देखने के लिए कहा जा रहा है.

पल्लवी जोशी ने कहा, “‘द कश्मीर फाइल्स’ की कहानी कोई ज्यादा नहीं, केवल 32 साल पुरानी है. ये उस सच की कहानी है जो हम सबसे इतने सालों तक छिपाया गया. इस सच को हम सबसे इस तरह छिपाया गया कि जब हमने पहली बार ये स्टोरी सुनी थी, तब हमें यकीन ही नहीं हुआ था कि आजादी के बाद हमारे अपने ही देश में ऐसा भी कुछ हो सकता है. मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता था, लेकिन जब हम लोगों ने रिसर्च की तो पता चला कि ये सब सच था और तब हमें एहसास हुआ कि कितने बड़े नरसंहार की कहानी हम सबसे छिपाई गई”.

पल्लवी ने आगे बताया कि “रिसर्च के बाद हमें इस बात का एहसास हुआ कि पूरा कश्मीरी पंडित (Kashmiri Pandit) समुदाय किस पीड़ा से गुजरा है, उस समय उनका कैसा नरसंहार हुआ था. वास्तविकता पूरे देश के सामने कभी नहीं आई, क्योंकि उस समय की राजनीति, मीडिया, व्यवस्था ने इसे दबा दिया था. तब मैंने और विवेक ने यह तय किया कि यह नरसंहार की कहानी है, जिसके बारे में लोगों को भी पता चलना चाहिए. हम इस कहानी को लोगों तक जरूर पहुंचाएंगे.”

फिल्म में पल्लवी जोशी ने जेएनयू की प्रोफेसर राधिका मेनन का किरदार निभाया है फिल्म में अनुपम खेर मिथुन चक्रवर्ती दर्शन कुमार अहम रोल में नजर आए.