Nawazuddin Siddiqui: बॉलीवुड के सेल्फमेड स्टार बन चुके नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) अपनी एक्टिंग से करोड़ों दिलों पर राज कर रहे हैं, नवाजुद्दीन (Nawazuddin Siddiqui) अपनी एक्टिंग के दम पर आज एक बहुत बड़े मुकाम पर पहुंच चुके हैं आज उनका नाम हर कोई जानता है अपनी मेहनत और जुनून के दम पर उन्होंने एक बहुत बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है. आज बड़े से बड़ा एक्टर और डायरेक्टर उनके साथ जुड़ना चाहता है उनके साथ काम करना चाहता है लेकिन क्या आप जानते हैं एक ऐसा वक्त हुआ करता था जब नवाजुद्दीन के पास खाने को पैसे तक नहीं थे, ठीक से खाना नहीं खाने के चलते वह बेहद कमजोर हो गए थे. एक बार तो उन्हें ऐसा लगा था कि वह मरने वाले हैं.

नवाजुद्दीन ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने संघर्ष भरे दिनों को याद किया और खुलासा किया कि-‘मैं हमेशा से मजदूरों की तरह मेहनती और लड़ने वाला स्वभाव का रहा हूं. मुझे नहीं लगता है कि मैं उनसे ज्यादा कुछ हूं. मेरे इरादे भी उन्हीं की तरह थे. मैंने कभी स्टार बनने का सपना नहीं देखा. मेरा इरादा सिर्फ जीवन यापन करना और खाने के लिए कमाई करना था. ऐसा 10 सालों तक चलता रहा’.

एक्टर ने आगे बताया-‘मैंने अजीब तरह की नौकरियां कीं और खाने के लिए दोस्तों के घर पहुंच जाया करता था. वह बहुत मुश्किल दौर था, लेकिन हम तब भी बहुत खुश थे. लेकिन हां, उस समय मैंने काम न मिलने की वजह से बहुत तनाव महसूस किया. जब आपके सपने बड़े होते हैं तभी डिप्रेशन और फ्रस्टेशन शुरू हो जाते हैं’.

नवाजुद्दीन ने खुलासा किया- कि ठीक से खाना ना खाने की वजह से मैं काफी कमजोर हो गया था. यहां तक कि मेरे बाल तक गिरने शुरू हो गए थे. मैं दो किलो मीटर चलने के बाद थक जाता था. उस वक्त मुझे ऐसा लगता था जैसे कि मैं मरने वाला हूं. इस वजह से मैं पूरे दिन घर से बाहर की दुनिया देखने के लिए घूमा करता था, क्योंकि पता नहीं था कि मैं कितने दिन जीने वाला हूं.