मिशन मंगल मूवी रिव्यू | Bharat Gossips

मिशन मंगल मूवी रिव्यू

हमारी रेटिंग 3.5 / 5

कलाकार: अक्षय कुमार,विद्या बालन,सोनाक्षी सिन्हा,तापसी पन्नू,कीर्ति कुल्हारी,शरमन जोशी,नित्या मेनन,संजय कपूर,जीशान अयूब

निर्देशक: जगन शक्ति

मूवी टाइप: Drama,History

अवधि: 2 घंटा 13 मिनटजगन शक्ति

आजादी का दिन हो और साथ में राखी जैसा त्यौहार और उस पर सोने के सुहागा जैसा एक्सटेंडेड वीकेंड, तो दर्शक का मन एक ऐसी फिल्म देखने को करता है, जो उसे गर्व महसूस करवाने के साथ-साथ खुशी भी दे।

दर्शकों की इसी नब्ज को अक्षय कुमार ने पकड़ा। वे मंगलयान जैसे देश के सर्वाधिक प्रतिष्ठित और गर्वीले मिशन की गाथा को दर्शानेवाली देश के स्वर्णिम अध्याय पर आधारित मिशन मंगल जैसी फीलगुड फिल्म ले आए।

कहानी: फिल्म की कहानी इसरो के मार्स प्रॉजेक्ट पर आधारित है, जब 24 सितंबर 2014 को इसरो (इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) की कई महिला साइंटिस्टों ने मंगल गृह की कक्षा में सैटलाइट लॉन्च किया था। इसके बाद भारत विश्वभर में पहला ऐसा देश बना, जो काफी कम बजट में अपने पहले ही प्रयास में इस मिशन में सफल रहा। फिल्म 2010 से शुरू होती है, जहां इसरो का जाना-माना साइंटिस्ट और मिशन डायरेक्टर राकेश धवन (अक्षय कुमार) इसरो की ही साइंटिस्ट और प्रॉजेक्ट डायरेक्टर तारा शिंदे (विद्या बालन) के साथ मिलकर एक जीएसएलवी सी-39 नामक मिशन के अंतर्गत एक रॉकेट लॉन्च करता है, मगर दुर्भाग्य से उनका मिशन नाकाम साबित होता है। खामियाजे के फलस्वरूप राकेश को इसरो के खटाई में पड़े मार्स प्रॉजेक्ट वाले विभाग में भेज दिया जाता है। वहां होमसाइंस के नियम से तारा को मिशन मंगल का आइडिया सूझता है।

इस प्रॉजेक्ट के लिए ये दोनों इसरो के हेड विक्रम गोखले को आश्वस्त करते हैं, मगर उनके सामने सबसे बड़ी चुनौती है बजट और नासा से बुलाए गए अफसर दिलीप ताहिल का कड़ा विरोध। राकेश की जिद और कमिटमेंट पर उसे ऐका गांधी (सोनाक्षी सिन्हा), कृतिका अग्रवाल (तापसी पन्नू), वर्षा पिल्ले (नित्या मेनन), परमेश्वर नायडू (शरमन जोशी) और एचजी दत्तात्रेय (अनंत अय्यर) जैसे नौसिखिए साइंटिस्टों की टीम दी जाती है। ये सभी साइंटिस्ट मंगल मिशन को लेकर जरा भी आश्वस्त नहीं हैं। इनकी अपनी निजी समस्याएं और सोच हैं। तारा शिंदे उनकी सोच को बदलकर उन्हें मिशन मंगल पर जी-जान से जुटने को प्रेरित करती है। 

मूवी रिव्यू: मिशन मंगल

रिव्यू: निर्देशक जगन शक्ति ने फिल्म के जरिए अपना डेब्यू किया है। निसंदेह एक साइंस और सच्ची ऐतिहासिक घटना पर आधारित फिल्म के साथ वह अपना प्रभाव जमाने में कामयाब रहे हैं। हां, उन्होंने किरदारों को मास अपील देने के लिए कई जगह पर सिनेमैटिक लिबर्टी ली है, जो कुछ एक जगह पर बचकानी भी लगती है, मगर इसके बावजूद उन्होंने इमोशन के सिरे को मजबूती से पकड़े रखा है। निर्देशक ने होमसाइंस और दूसरे साइंटिफिक तथ्यों के आधार पर मंगलयान मिशन के सफर को समझाने की कोशिश की है, मगर स्पेशल इफेक्ट्स के मामले में वह कमजोर साबित हुए हैं। वीएफएक्स इफेक्ट्स दमदार होते तो स्पेस वाले दृश्य बेहतरीन बन सकते थे।

क्रिस्प कहानी, प्रभावशाली बैकग्राउंड स्कोर और बांधकर रखनेवाला क्लाईमैक्स फिल्म के प्लस पॉइंट हैं, मगर फिल्म के अंत में पीएम की एंट्री और उनकी कॉमेंट्री की जरूरत नहीं थी। सभी कलाकरों का अभिनय फिल्म को दर्शनीय बनाता है। अक्षय कुमार ने राकेश धवन की भूमिका को बहुत ही मजेदार ढंग से जिया है। उनके वन लाइनर्स पर दर्शक न केवल मुस्कुराते हैं बल्कि तालियां भी पीटते हैं। अभिनेत्री के रूप विद्या बालन हमेशा की तरह अपने जादू को जगाने में कामयाब रही हैं। उन्होंने एक साइंटिस्ट और एक आम मां व बीवी की भूमिका को इतनी खूबसूरती से जिया है कि दर्शक मुग्ध हुए बिना नहीं रहता। एक दृश्य में वह अपने पति संजय कपूर से कहती है, ‘बेटी की इतनी फिक्र है, तो उसके दोस्तों के नंबर अपने पास रखो। मुझे गिल्टी फील करवाने से क्या फायदा?’ ऐका गांधी की भूमिका में सोनाक्षी हॉट लगने के साथ-साथ कन्विंसिंग लगी हैं। तापसी ने अपने किरदार की सहजता को बनाए रखा है। मंगल गृह के प्रकोप के मारे शरमन जोशी ने अपने चरित्र में अच्छा-खासा मनोरंजन किया है। संजय कपूर, नित्या मेनन, कीर्ति कुल्हारी, जीशान अयूब, अनंत अय्यर ने छोटी भूमिकाओं के बावजूद अच्छा साथ दिया है। अमित त्रिवेदी के संगीत में, ‘मिशन मंगलम’ गाना ठीकठाक बन पड़ा है। 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

बाटला हाउस मूवी रिव्यू

Fri Aug 16 , 2019
हमारी रेटिंग 3.5 / 5 कलाकार: जॉन अब्राहम,मृणाल ठाकुर,नोरा फतेही,रवि किशन निर्देशक: रवि किशन मूवी टाइप: Action,Thriller अवधि: 2 घंटा 26 मिनट देश प्रेम के जज्बे को दर्शाने वाली फिल्म के लिए 15 अगस्त यानी आजादी के दिन से बेहतर और क्या हो सकता है। इसी दिन का फायदा उठाते […]
batla house 759 4 मिशन मंगल मूवी रिव्यू