Ghoomketu Review: Read this review, will save precious 102 minutes!
Ghoomketu Review: Read this review, will save precious 102 minutes!

Ghoomketu Review
कलाकार: इला अरुण, रघुवीर यादव, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, अनुराग कश्यप, रागिनी खन्ना आदि।
निर्देशक: पुष्पेंद्र मिश्रा
निर्माता: सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट, फैंटम फिल्म्स
रेटिंग: 3/5

प्लेटफॉर्म: ZEE5

Ghoomketu Review: घूमकेतू सिनेमा के दर्शकों के लिए इस साल की कोरोना काल से भी बड़ी आफत है। जनवरी से घोस्ट स्टोरीज से शुरू हुआ ये मर्ज लाइलाज होता जा रहा है। घूमकेतू फिल्म को बनाने वाली सोनी पिक्चर्स का अपना खुद का ओटीटी है सोनी लिव और फिल्म दिखाई जा रही है जी5 (ZEE5) पर।

ये भी पढ़ें: अनिल कपूर को याद आए ऋषि कपूर तस्वीर सोशल मिडिया पर साझा की

वॉयकॉम 18 की सीरीज ताजमहल 1989 के साथ हुआ इसके नेटफ्लिक्स पर प्रकट होने के समय। इसी सीरीज के निर्देशक पुष्पेंद्र नाथ मिश्रा की फिल्म है घूमकेतू। फिल्म की कास्टिंग में इस्तेमाल एनीमेशन और क्लाइमेक्स से ठीक पहले इसी एनीमेशन का एक्सटेंशन छोड़ फिल्म में अगर कुछ देखने सुनने लायक है तो वह हैं संतो बुआ। वो ऐसी बुआ हैं, जैसी आपने हमने अपने घरों में बचपन से देखी हैं। घूमकेतू के पिता यानी दद्दा जी के किरदार वाले रघुवीर यादव का पिनकना भी सबने खूब देखा होगा लेकिन इस किरदार का दूसरी शादी कर लेना उनकी पूरी मेहनत की हवा निकाल गया। चाचा के रूप में गीतकार स्वानंद किरकिरे हैं और इंस्पेक्टर बदलानी के रूप में निर्देशक अनुराग कश्यप। दोनों को एक्टिंग की क्यों सूझी, ये दोनों ही जानें या इनका बैंक एकाउंट।

ये भी पढ़ें: रजनीकांत की दिवाली पर होगी रिलीज़ (Pongal 2021), स्क्रीन पर होगी हिट..

अगर आप जिद करते हो तो कहानी भी बता ही देते हैं। मोहाना के हैं घूमकेतू। सामूहिक विवाह में बीवी बदल गई। इतनी मोटी मेहरारू है कि उसे बिठाके ये साइकिल नहीं चला सकते। पिताजी के गल्ले से ज्यादा इनको फिल्मों की स्टोरी लिखने में दिलचस्पी है और एक दिन प्रेम प्रताप पटियालेवाला की तरह संदूक लेकर ये पहुंच जाते हैं बंबई। टारगेट है तीन दिन में फिल्म राइटर बनना।

अब इसके डायरेक्टर को कोई ये समझाए कि वह छह साल में अपनी फिल्म रिलीज करा पाए और अपनी कहानी के नायक को टारगेट दिए हैं 30 दिन का। खैर घूमकेतु का लिखा कोई रद्दी में बेच आता है और रद्दी का वो पन्ना मिलता है अमिताभ बच्चन को। घूमकेतू को घर लौटने पर बीवी बिल्कुल शिल्पा शेट्टी जैसी फिट मिलती है। दोनों फिल्म देखने जाते हैं तो परदे पर वही डॉयलॉग चलता मिलता है जो घूमकेतू की चोरी हुई स्क्रिप्ट का हिस्सा था।

ये भी पढ़ें: Tere Bina Released: सलमान खान के साथ नजर आई जैकलीन फर्नांडिस

फिल्म यहीं खत्म हो जाती है। आप भी बस रिव्यू में इतने से ही संतोष कीजिए। फिल्म में टेक्निकल टाइप की कोई चीज बताने या यहां लिखने लायक है नहीं। एक ठो आइटम नंबर है और उसका भी गीत संगीत और अभिनय बेहद कमजोर दर्जे का है। जीवन के 102 मिनट किसी ढंग के काम में लगाने हो तो ये रिव्यू आपके ही लिए लिखा गया है।