83 Movie Review : आज किसी भी मूवी को सुपर डूपर हिट करने के लिए एक ही फैक्टर काफी है और वो है रणवीर सिंह (Ranveer Singh) और उनके साथ अगर क्रिकेट भी जोड़ दिया जाए, दीपिका पादुकोण भी हों, 1983 वर्ल्ड कप की यादें व वर्ल्ड कप विजेता टीम के क्रिकेटर्स भी हों तो उस मूवी को बॉक्स ऑफिस पर विजय पताका लहराने से कौन रोक सकता है.

83 की स्टार कास्ट
कबीर खान द्वारा निर्देशित फिल्म (83 Movie Review) 83 साल 1983 विश्वकप विजेता भारतीय किक्रेट टीम के पूर्व कैप्टन कपिल देव की बायोपिक है, जिसमें रणवीर सिंह लीड कपिल देव का किरदार निभा रहे हैं और उनकी पत्नी दीपिका पादुकोण उनकी पत्नी रोमी देवी का किरदार निभा रही हैं। रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण के अलावा फिल्म में ताहिर राज भसीन, निशांत दहिया, हार्डी संधू और पंकज त्रिपाठी ने भी अहम किरदार निभाया है.

फैंस का रिएक्शन
थियेटर (83 Movie Review) से बाहर निकलते वक्त मेरी आंखें नम थी, चेहरे पर मुस्कान थी. क्योंकि इंडिया ने वर्ल्डकप जीता. आंखों की नमी को दुनिया ने देखा, लेकिन चेहरे की मुस्कान सिर्फ मेरी थी. मेरा मास्क मेरी हंसी को छुपा रहा था, उस हंसी में 38 साल पुरानी जीत को पर्दे पर देख पाने का सुकून था. जो एक क्रिकेट फैन के लिए लिए काफी था.

एक्टर्स ने किरदार में डाली जान
डायरेक्टर से आगे अगर कलाकारों की बात करें तो रणवीर सिंह ने कपिल देव की किरदार में पूरी तरह से जान फूंकने का काम किया है. रणवीर सिंह फिल्मी हीरो हैं और कपिल देव मैदान के सबसे बड़े हीरो थे. कपिल देव के बात करते हुए वीडियो अगर आप यू-ट्यूब पर देखने जाएंगे तो रणवीर सिंह की तारीफ बिल्कुल होगी. क्रिकेट शॉट की तुलना हो सकती है, लेकिन सबसे बेस्ट आपका तब सामने आता है जब आप सबसे बारीक से बारीक चीज़ को पकड़ पाएं. गर्दन का झुकाना, शर्माते हुए बोल जाना, अंग्रेज़ी को लेकर दिक्कत और उसमें आने वाले पंच, रणवीर सिंह ने कपिल देव के किरदार को सबसे बेहतरीन तरीके से संभाला है.