दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) की पार्टी का समर्थन, JJP का डिप्टी सीएम, भाजपा का होगा सीएम | Bharat Gossips

दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) की पार्टी का समर्थन, JJP का डिप्टी सीएम, भाजपा का होगा सीएम

हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी को दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) अपना समर्थन देगी. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री भाजपा का होगा और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी की तरफ से बनाया जाएगा. बीजेपी अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने गठबंधन की घोषणा करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सभी वरिष्ठ नेता और जेजेपी के नेताओं की एक बैठक हुई और हरियाणा की जनता ने जो जनादेश दिया है उसे स्वीकार करते हुए दोनों पार्टियों के नेताओं ने यह तय किया है कि भारतीय जनता पार्टी और दुष्यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी मिलकर सरकार बनाएगी.

इसे भी पढ़ें : विश्व बैंक की ‘कारोबार में सुगमता’ रिपोर्ट में भारत अब और ऊपर चढ़कर 63वें पायदान पर पहुंच गया है

अमित शाह ने कहा कि इस सरकार में मुख्यमंत्री भारतीय जनता पार्टी के होंगे और उपमुख्यमंत्री जेजेपी की तरफ से होगा. उन्होंने कहा कि इसके अलावा कई सारे निर्दलीय विधायकों ने भी इस गठबंधन को अपना समर्थन दिया है. कल भारतीय जनता पार्टी के विधिवत नेता चुनने के बाद सरकार बनाने की आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी और अगले पांच साल तक भारतीय जनता पार्टी और जेजेपी की सरकार हरियाणा के विकास को मोदी जी के नेतृत्व में आगे ले जाएगी.

हरियाणा विधानसभा चुनाव में BJP ने ‘अबकी बार 75 पार’ नारा दिया था, लेकिन पार्टी उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रही. 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 46 है. बीजेपी को 40 सीटों पर जीत मिली है. सरकार बनाने के लिए उसे 6 सीटों की जरूरत थी.

हरियाणा विधानसभा चुनाव में ‘किंगमेकर’ बनकर उभरी जननायक जनता पार्टी (JJP) के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. बीजेपी (BJP) को समर्थन देने के सवाल पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हमारे पास दोनों रास्ते खुले हुए हैं. उन्होंने कहा था कि हम उस पार्टी को समर्थन देंगे जो हमारे एजेंडे को आगे बढ़ाएगा. उन्होंने कहा कि हम बात करेंगे, लेकिन अभी हमने क्लीयर बात नहीं की है. राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने मुझे अधिकृत किया है, जिसके बाद हम अब दोनों पार्टियों से बात करेंगे. उन्होंने कहा कि अगर स्टेबल सरकार चाहिए तो आज भी चाभी मेरे पास है.

इसे भी पढ़ें : मुकेश अंबानी: सबसे धनी देश बनने की राह पर भारत

गौरतलब है कि बीजेपी को हरियाणा में 7 सीटों का नुकसान हुआ है. 2014 के विधानसभा चुनाव बीजेपी ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की थी और अपने दम पर सरकार का गठन किया था. दूसरी तरफ कांग्रेस को 16 सीटों का फायदा हुआ है. कांग्रेस ने 31 सीटों पर जीत दर्ज की है. पिछले चुनाव में कांग्रेस सिर्फ 15 सीटों पर सिमट गई थी. BJP को सरकार बनाने के लिए 6 और सीटों की जरूरत होगी.

admin

Next Post

डीएमआरसी ने जारी किया दिशा-निर्देश, दिवाली के दिन कब से कब तक चलेगी मेट्रो (Delhi Metro)

Fri Oct 25 , 2019
डीएमआरसी ने कहा है कि 27 अक्तूबर यानी दिवाली के दिन आखिरी मेट्रो (Delhi Metro) शाम दस बजे तक चलेगी। यानी यह मेट्रो अपने समय से एक घंटा पहले छुट जाएगी। वहीं दिवाली के दिन मेट्रो (Delhi Metro) सेवा सुबह 6 बजे से और एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर 4: 45 […]
Delhi Metro