Delhi: Lab technician did suicide, corona report came positive

दिल्ली के वजीराबाद इलाके में जिस मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के लैब टेक्नीशियन ने सुसाइड किया था, उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव (Corona report came positive) आई है. सुसाइड के बाद उसकी बॉडी से सैंपल लिया गया था, जिसकी रिपोर्ट अब आई है, जो पॉजिटिव है.

पुलिक के मुताबिक 29 अप्रैल को लैब टेक्नीशियन ने आत्महत्या की थी. लैब टेक्नीशियन की उम्र 50 साल थी. लैब टेक्नीशियन अपने परिवार से पिछले 10 दिनों से अलग रह रहा था, क्योंकि उसकी ड्यूटी कोविड टेस्ट में लगी हुई थी.

अपने परिवार को सेफ रखते हुए एहतियात के तौर पर वजीराबाद में रह रहा था. मृतक का परिवार मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के सरकारी कमरे में रहता है. सुसाइड के बाद जिन पुलिस वालों ने उसकी बॉडी को पंखे से उतारा था, अब उनको क्वारनटीन किया गया है.

ये भी पढ़ें: वाइट हाउस ने बदला रुख, मोदी के ट्विटर को अचानक अनफॉलो किया

एक ही मकान में 41 लोग कोरोना संक्रमित

इस बीच, दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण का सिलसिला थमता हुआ नहीं दिख रहा है. दिल्ली के कापसहेड़ा में एक ही बिल्डिंग में 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.

असल में, दिल्ली के कापसहेड़ा में एक मकान में 18 अप्रैल को एक कोरोना का मामला सामने आया था. घनी आबादी का इलाका देखते हुए प्रशासन ने 19 अप्रैल को इलाके को सील करने के आदेश दे दिए थे.

इसके बाद यहां के 95 लोगों के सैंपल 20 अप्रैल को और 80 के सैंपल 21 अप्रैल को लिए गए. यह सैंपल नोएडा की NIB लैब को भेजे गए. कुल मिलाकर 175 लोगों के सैंपल में से 67 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आज आई है. इनमें से 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. हालांकि 10-11 दिन में जो रिपोर्ट आई है, वह भी पूरी नहीं है.

ये भी पढ़ें: History Biggest Tragedy: लाशों को दफन करने के लिए जगह पड़ी कम

टेस्ट रिपोर्ट में देरी की वजह नोएडा की NIB लैब में भेजे जा रहे अधिक सैंपल को बताया जा रहा है. लेकिन वहीं साउथ वेस्ट जिलाधिकारी कार्यालय के मुताबिक 25 अप्रैल के बाद साउथ वेस्ट जिले की तरफ से नोएडा लैब को कोई सैंपल नहीं भेजा गया है.