Edible Oil: देश में महंगाई की मार झेल रही जनता की जेब दिन बा दिन कमजोर होती जा रही है एक तरफ पेट्रोल डीजल की कीमतें आसमान छू रही है वहीं दूसरी तरफ सब्जियों के महंगे भाव में रसोई घर से दूरी बना ली है लेकिन महंगाई की मार में एक राहत भरी खबर यहां है सरसों के तेल के मूल्यों में नजर आई.

इतनी कम हुई क़ीमतें
सरसों के तेल की कीमतें कम होने से जनता काफी खुश है नई सरसों के तेल की कीमत 160 से ₹170 प्रति के लोग के बीच में आई है ऐसे में यदि आप सरसों के तेल को खरीदना चाहते हैं तो आपको काफी फायदा हो सकता है.

मिल वालों, संयंत्रों, आयातकों को सारे भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है, मिल वालों को सोयाबीन का कारोबार करने से कोई फायदा नहीं मिलता है और इस वजह से मजबूरन तेल सस्ते में बेचना पड़ रहा है.

बाजार सूत्रों ने ये बताया है कि महाराष्ट्र के धुरिया में प्लांट वाले सोयाबीन का दाना 6,625-6,650 रुपये क्विन्टल के रेट खरीदे जा रहे हैं। इससे सोयाबीन दाना एवं लूज के रेट में बहुत सुधार आया है, सामान्य कारोबार के बीच सोयाबीन तेल, सीपीओ के साथ सारे तेल-तिलहनों के भाव पहले जैसे ही बंद हुए हैं.

– मूंगफली साल्वेंट रिफाइंड तेल 1,840 – 1,965 रुपये प्रति टिन पर बिक रहा है।

– सरसों तेल दादरी में 16,600 रुपये प्रति क्विंटल पर बिक रह है।

– सरसों पक्की घानी- 2,265 -2,590 रुपये प्रति टिन पर बिक रहा है।

– सरसों कच्ची घानी- 2,645 – 2,755 रुपये प्रति टिन पर बिक रहा है।

– तिल तेल मिल डिलिवरी 16,700 – 18,200 रुपये है।

– सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली में 12,780 रुपये है।

– सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर में 12,450 रुपये है।

– सोयाबीन तेल डीगम, कांडला में 11,400 रुपये है।